उन्नाव:- जनकल्याणकारी योजनाओं की प्रगति को मुख्य धारा से जोड़ा जायेगा लाॅकडाउन के दौरान रूकी योजनाओं को चालू करने के दिये निर्देश ( रिपोर्ट:-राजेश कुमार यादव )

0
141

जनकल्याणकारी योजनाओं की प्रगति को मुख्य धारा से जोड़ा जायेगा लाॅकडाउन के दौरान रूकी योजनाओं को चालू करने के दिये निर्देश

रिपोर्ट:-राजेश कुमार यादव

उन्नाव:- प्रदेश सरकार की महात्वाकांक्षी योजनाओं को जो अभी तक कोरोना वायरस के वजह से प्रगति धीमी पड जाने के कारण उन्हे गति प्रदान कराये जाने के उद्देश्य से जिलाधिकारी श्री रवीन्द्र कुमार की अध्यक्षता में कलेक्टे्ट कक्ष में जनपद के मा0 विधायक श्री पकज गुप्ता, श्री बृजेश कुमार रावत , श्री अनिल कुमार सिंह, श्री बम्बालाल दिवाकर एवं मा0 विधान परिषद सदस्य श्री अरूण पाठक के साथ विकास परक योजनाओं से सम्बन्धित बैठक का आयोजन किया गया ।
जिलाधिकारी ने उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिये है कि लाॅकडाउन होने के कारण विकास परक योजनाओं की लक्ष्य के सापेक्ष्य पूर्ति शून्य रही है। सभी विभागों के अधिकारियों का दायित्व बनता है कि आम जनमानस को सरकार की योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ मिले इस की रणनीति तत्काल बनायी जाये । जिलाधिकारी ने मुख्य विकास अधिकारी डा0 राजेश कुमार प्रजापति को निर्देश दिये हैं कि जो प्रवासी श्रमिक राजकीय वाहन से उन्नाव आये हंै उन्हे क्वारन्टाइन रखा गया है उन सभी की फीड्रिग का कार्य तत्काल पूरा कराया जाये । जो प्रवासी श्रमिक पैदल चल कर उन्नाव जनपद आये है उनकी भी फीडिंग समय से पूरा कराये जाने के निर्देश दिये गये । उन्होने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये है कि जो गैर प्रान्त से श्रमिक आये है मनरेगा के तहत कार्य उनको तकनीकी योग्यता के अनुसार दिया जाये । मानव सृजन दिवस तथा मनरेगा में महिलाओं को शीर्ष प्राथमिकता दी जाये । उन्हांेने बताया कि शासन के निर्देशानुसार जनपद के श्रमिकों एवं पात्र लोगों को मनरेगा के तहत फलदार वृक्ष, व्यक्तिगत तालाबों में मछली पालन के कार्य को बढावा दिया जाये । औषधीय खेती पर जोर दिया जाये ताकि लोगों को इसका ज्यादा से ज्यादा फायदा मिल सके। मनरेगा की योजनाओं का लोगों को अधिक से अधिक लाभ मिल सके इस लिए यह आवश्यक होगा कि गांव-गाव खुली बैठके करा कर योजनाओं को प्रचार प्रसार किया जाये । उन्होंने बताया कि सभी मनरेगा श्रमिकों को उनके बैंक खाते में उनकी मजदूरी भेजी जा रही है ।
जिलाधिकारी ने बताया कि जिला स्तरीय अधिकारियों की टीम बनायी गयी है जो कार्य सत्यापन की रिपोर्ट गुणवत्ता युक्त प्रस्तुत करेंगें , यह भी अधिकारियों को कडे निर्देश दिये गये है कि यदि किसी भी स्तर से शिकायत एवं शिथिलिता की जानकारी मिलती है तो सम्बन्धित के विरूद्व विधिक कार्यवाही की जायेगी । जिला पंचायत अधिकारी को निर्देश दिये गये हैं कि जो हैण्डपम्प रिवोर की स्थिति में है मानक के अनुसार तत्काल कार्यवाही की जाये । शिकायतों का संज्ञान में लेते हुए जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देश दिये है कि जनपद के प्रत्येक ग्राम पंचायतों में मानक के अनुसार सफाई कर्मियों की तैनाती पूरी की जाये । यह भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये हैं किसी भी सफाई कर्मी को अनावश्यक ब्लाकों में तैनाती न दी जाये । सफाई कर्मियों को उनके आवंटित ग्राम सभाओं में रहना अनिवार्य किया जाये । उन्हांेने बताया कि कुछ प्रवासियों के आवास जीर्णशीर्ण दशा में है रहने हेतु प्रधान मंत्री आवास योजना के तहत लाभान्वित कराये जाने की रूप रेखा तैयार की जा रही है। राशन की उपलब्धता सुनिश्चित कराये जाने एवं समय से आम जन को राशन मिलता रहे इस कारण जिला पूर्ति अधिकारी को राशन कार्ड बनाये जाने एवं यूनिट बनाये रखने तथा किसी प्रकार की शिकायत न आये इस पर विशेष ध्यान दिये जाने के निर्देश दिये ।
जिलाधिकारी ने उपस्थित जनप्रतिनिधियों को अधिकारियों की ओर से आस्वस्थ करते हुए कहा कि आप सभी के द्वारा जो सुझाव दिये गये है उनको शत प्रतिशत पूरा कराने का प्रयास किया जायेगा । आगामी होने वाली विकास योजना की बैठक में जो भी सुझाव दिया गया है उसका पालन करा कर अवगत कराये जाने को कहा गया। जिलाधिकारी ने कहा कि सरकार की मंशा है कि आम जन को रहना, खाना और उसका समय से काम हो जाये इस पर विशेष ध्यान दिये जाने की आवश्यकता है। उन्होंने बताया कि स्थानीय श्रमिको को उनको जनपद में ही रोजगार दिये जाने का कार्य चल रहा है ।
बैठक में प्रमुख रूप से पुलिस अधीक्षक श्री विक्रान्त वीर, मुख्य विकास अधिकारी डा0 राजेश कुमार प्रजापति, मुख्य चिकित्सा अधिकारी श्री आशुतोष कुमार , मुख्य पशु चिकित्साधिकारी श्री प्रमोद कुमार सिंह , अपर जिलाधिकारी श्री राकेश कुमार सिंह, नगर मजिस्टे्ट श्री चन्द्रन पटेल सहित जिला स्तरीय अधिकारी आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here