कुशीनगर: साखोपार मे मछली पालक की गला रेत कर हत्‍या,जाच मे जुटी पुलिस : ( रिपोर्ट : गोल्डेन कुशवाहा )

0
335

कुशीनगर: साखोपार मे मछली पालक की गला रेत कर हत्‍या,जाच मे जुटी पुलिस

गोल्डेन कुशवाहा

कुशीनगर के कसया थाना क्षेत्र के साखोपार के सरेह में सो रहे मत्स्य पालक की गला रेत कर हत्या कर दी गई। शुक्रवार की सुबह सात बजे तक घर नहीं लौटने पर भतीजे के मौके पर पहुंचने पर हत्या की जानकारी हुई। इससे पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे एडिशनल एसपी अयोध्या प्रसाद सिंह ने पूरे मामले की जानकारी ली। डाग स्क्वायड की निशानदेही पर गांव के दो महिलाओं समेत पांच लोगों को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।
मृतक के बेटे मनोज की तहरीर पर पुलिस गांव के एक व्यक्ति पर हत्या का केस दर्ज कर कार्रवाई में जुटी हुई है। कसया थाना क्षेत्र के साखोपार निवासी 50 वर्षीय जयराम चौहान गांव के सरेह में स्थित मिल्की ड्रेन पर मछली पकड़ कर परिवार की आजीविका चलाता था। वह पिछले एक सप्ताह से ड्रेन के बंधे पर पम्पिंग सेट से ड्रेन से पानी निकाल कर मछली पकड़ता था। जयराम रोज की भांति गुुुुरुवार रात खाना खाकर बंधे पर सोने के लिए चला गया। शुक्रवार की सुबह सात बजे तक उसके घर नहीं लौटने पर उसका भतीजा सूरज चौहान खोजते हुये मौके पर पहुंचा। 
भतीजा सूरज के मुताबिक चाचा कंबल ओढ़कर सोये हुये थे। आवाज देने पर उनके द्वारा कोई जवाब नहीं देने पर जब कंबल हटाया तो देखा कि उनका गला काटकर हत्या कर दी गयी थी। इसे देख वह सन्न रह गया और शोर मचाते हुये ग्रामीणों को सूचना दी। इसकी जानकारी होते ही पूरे गांव में सनसनी फैल गई। चार गांव के लोग मौके पर पहुंच गये। सूचना मिलने पर एसएसपी एपी सिंह, सीओ कसया पीयूषकांत राय, एसओ उमेश कुमार, एसआई नंदलाल यादव, भरत मिश्रा, रामचंद्र सिंह आदि पुलिस कर्मियों ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। एएसपी के निर्देश पर मौके पर पहुंची डॉग स्क्वायड व फॉरेसिंक टीम भी पहुंच गयी। डाग स्क्वाड का कुत्ता मौके पर खून को सूंघ कर चंवर के रास्ते से गांव के रामाशीष के घर पहुंचा। 

वहां से कुत्तों के निशानदेही पर खून से सने जैकेट, बखुआ, मोबाइल पुलिस बरामद की। पुलिस उसके पिता, भाई, उसके घर की दो महिलाएं व दुर्गवलिया निवासी एक व्यक्ति को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। मृतक के बेटे मनोज की तहरीर पर पुलिस ने रामाशीष के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर जांच में जुटी हुई है।

 
हत्या की जानकारी मिलने पर पहुंचे चार गांव के लोग
कसया थाना क्षेत्र के साखोपार में मत्स्यपालन की हत्या की जानकारी होते ही मौके पर चार गांव के लोग पहुंच गये। पुलिस के मना करने के बावजूद लोग डाग स्क्वायड के कुत्तों के पीछे चलने लगे। कुत्तों के निशानदेही पर घटना स्थल से कुछ दूरी पर खून का  निशान, कुछ दूरी पर चप्पल और उसके घर पहुंचकर जैकेट, बांका व मोबाइल बरामद हुआ। भीड़ में साखोपार, बहारोपुर, दुर्गवलिया व जिगना के लोग दोपहर तक कुत्तों के पीछे दौड़ते रहे।
मौत से मचा कोहराम
साखोपार में जयराम की मौत की सूचना मिलते ही उसके परिवारीजनों में कोहराम मच गया। पत्नी लवंगी देवी रूक रूक बेहोश हो जा रही है। बेटा जीतेंद्र, मनोज व सिकंदर का रो रो कर बुरा हाल है। परिवार का एक मात्र कमाउ सदस्य की हत्या होने पर पूरे गांव में मातम छा गया। जयराम मछली पकड़ कर बेचता है। उसकी कमाई से पूरे परिवार की आजीविका निर्भर थी।
डाग स्क्वायड से मामला सुलझाना हुआ आसान
साखोपार में सुबह जयराम की हत्या की सूचना मिलने ही पूरे गांव में सनसनी फैल गई। लोग उसके हत्या को लेकर तरह तरह की चर्चाएं कर रहे थे। पुलिस के पहुंचने के बाद भी मामले का कुछ ठोस वजह नहीं पता चल रहा था। डाग स्क्वायड के कुत्तों की मदद से पुलिस बहुत हद तक हत्या का खुलासे तक पहुंच गई है। आरोपी के घर से सामान बरामद होने के बाद मृतक के बेटे मनोज ने आरोपी के खिलाफ नामजद तहरीर सौंप कार्रवाई की मांग की। 
मृतक के बेटे की तहरीर पर गांव के एक व्यक्ति के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया गया है। दोनों एक ही साथ मछली पकड़ने के लिए साथ में रहते थे। आरोपी के घर की दो महिलाओं समेत पांच लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछत की जा रही है। शीघ्र आरोपी को गिरफ्तार कर मामले की खुलासा कर दिया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here