गोरखपुर:- परोपकार ही मानव सेवा है: विनोद गुप्ता ( रिपोर्ट:- कृपाशंकर राय )

0
81

 

परोपकार ही मानव सेवा है: विनोद गुप्ता

रिपोर्ट:- कृपाशंकर राय

बांसगांव, गोरखपुर : मनुष्य की वास्तविक पूंजी धन नहीं बल्कि उसके विचार है! क्योंकि धन तो खरीदारी में दूसरों के पास चला जाता है पर विचार अपने पास ही रहते हैं।

जी हम बात कर रहे हैं ऐसे ही एक समाजसेवी की जो दूसरों के लिए जीने में ज्यादा विश्वास करते हैं, जो दूसरों की पीड़ा को अपनी पीड़ा समझते हैं, और जो किसी परिचय के मोहताज नहीं है, ऐसे सर्वगुण संपन्न समाजसेवी और पत्रकार विनोद गुप्ता और साईं भक्त मनोज गुप्ता के द्वारा इस आपदा की घड़ी में धस्की गाँव में उन्होंने अपने एवं अगल-बगल के गांवों में 23 कुंटल सब्जी, 7 कुंटल फल, 580 गरीब और जरूरतमंद परिवारों में वितरण किया। जो आज गांव गरीबों मजदूरों में चर्चा का विषय बना हुआ है।

सबसे बड़ी बात इन साईं भक्तों में थोड़ा भी अहंकार की भावना नहीं है, और इसी कारण आज अपने क्षेत्र में इनकी चर्चा जोरों पर है।

ज्ञातव्य हो कि साईं भक्त मनोज गुप्ता के दिशा निर्देश और सहयोग से विगत कई वर्षों से विनोद गुप्ता द्वारा अपने गांव के अगल-बगल के गांव में कभी साड़ी, वस्त्र, छाता, छोटे व गरीब बच्चों के लिए वस्त्र, मिठाई आदि जरूरत के सामान वितरण किया करते हैं।

वहीं इस कोरोना महामारी आपदा के में जरूरतमंदों के लिए कुछ अलग किया है, जो इस अदृश्य आपदा में बहुत ही सराहनीय कदम है, इस कार्य से उन्होंने समाज में एक अपनी अमिट छाप छोड़ी है।

श्री गुप्ता बताते हैं कि मेरे बड़े भाई मनोज गुप्ता जो बहुत बड़े साईं भक्त हैं, उनका हमेशा से ही यही उद्देश्य रहता है कि इंसान के पास कितना भी धन,सम्पत्ति हो फिर भी वह उतना ही परेशान रहता है, जितना न रहने पर कभी भी इंसान अपने धन ,सम्पत्ति से संतुष्ट नहीं होता उसको और पाने की चेष्टा करता रहता है।
उनकी आंखें नम हो जाती हैं जब कहते है कि यदि मै वर्ष में अपने मेहनत का कुछ पैसा यदि गांव समाज के लिए खर्च करता हूँ तो मेरा धन, सम्पत्ति कम होने के बजाय बढ़ता ही रहता है, और साँई बाबा से प्रार्थना करता रहता हूं, कि मुझे ऐसा ही गांव समाज का सेवा करने का सौभाग्य जीवन भर मिलता रहे।

इस कार्य से गांव, गरीब, मजदूर, असहायों का आशीर्वाद प्राप्त होता है जिससे मुझे बहुत ही खुशी मिलती है।
परोपकार ही एक ऐसा गुण है जो मानव को पशु से अलग कर देवताओं की श्रेणी में लाकर खड़ा करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here