गोरखपुर:- मण्डलायुक्त ने चिकित्सकों संग की बैठक,दिये आवश्यक सुझाव (रिपोर्ट- योगी अंगद सारण)

0
150

मण्डलायुक्त ने चिकित्सकों संग की बैठक,दिये आवश्यक सुझाव

रिपोर्ट- योगी अंगद सारण

गोरखपुर । मण्डलायुक्त जयन्त नार्लिकर ने कहा कि कोविड-19 वायरस की वैश्विक महामारी से विश्व के सभी देश प्रभावित है। कोरोना वायरस को फैलने से रोकना ही इसका एक मात्र इलाज है। यह एक लम्बी लड़ाई है लेकिन हम सबको मिलकर इस जंग को जीतना है। उन्होंने कहा कि इस बीमारी को आम जन छिपाये नही क्योकि इसे छुपाना बेहद घाटक होगा इसके लक्षण देखते ही तत्काल चिकित्सक को दिखायें।
उक्त बातें मण्डलायुक्त ने एनेक्सी सभागार में चिकित्सको के साथ बैठक करते हुए कहीं। इस अवसर पर उन्होंने चिकित्सको से संवाद स्थापित किया तथा समस्याओ का निराकरण हो सके। उन्होंने आरोग्य सेतु ऐप को ज्यादे से ज्यादे डाउनलोड करने पर बल देते हुए कहा कि टेली मेडिसिन को और प्रभावी करने की आवश्यकता है इसके साथ ही आयुक्त ने निर्देश दिये कि बार्डर के गांव पर विशेष ध्यान देते हुए प्रभावी तौर पर टेस्टिंग करायी जाये।
इस अवसर पर जिलाधिकारी के. विजयेन्द्र पाण्डियन ने चिकित्सको से कहा कि लाकडाउन समाप्ति के पश्चात जो ओपीडी प्रारम्भ होगी तो सोशल डिस्टेन्स का पूरा इंतजाम होना चाहिए। उन्होंने स्वास्थ्य कर्मियो के प्रशिक्षण पर बल देते हुए आफवाहो पर ध्यान न देेने तथा साबुन से हाथ धोने, मास्क का प्रयोग करने आदि पर बल दिया। उन्होंने कहा कि इस बीमारी से बचने के लिए बचाव ही बेहतर उपाय है। जिला प्रशासन द्वारा इस जंग को जीतने हेतु पूरी तैयारी की गयी है। यह जनपद ग्रीन जोन में है और जनपद को कोरोना मुक्त बनाये रखना तथा कोरोना को भगाना है इसी सकल्प के साथ तत्पर है।
मुख्य चिकितसाधिकारी डा. एस. के. तिवारी ने बताया कि अब तक कुल 346 टेस्ट हुआ है तथा 84 चिकित्सक टेली मेडिसिन की सेवाएं दे रहे है और 1106 डाक्टर पैरामेडिकल स्टाफ आदि का प्रशिक्षण भी दिया गया है। कुछ निजी पैथालाजी टेस्टिंग हेतु नामित किये गये है तथा टेस्टिंग शुल्क भी निर्धारित की गयी है।
इस अवसर पर उपरोक्त के अतिरिक्त एसपी सिटी, एडी हेल्थ एवं एयरफोर्स, एसएसबी के चिकित्सक, आईएमए के प्रेसिडेन्ड, सेक्रेटरी, प्राचार्य मेडिकल कालेज, सीएचसी व पीएचसी प्रभारी आदि उपस्थित रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here