बागपत:- उत्तर प्रदेश लौटे श्रमिकों को मिलेगा पूरा सम्मान: डॉ कौशिक ( रिपोर्ट–विश्व बंधु शास्त्री )

0
291

उत्तर प्रदेश लौटे श्रमिकों को मिलेगा पूरा सम्मान: डॉ कौशिक

रिपोर्ट–विश्व बंधु शास्त्री

बड़ौत। विभिन्न राज्यों से उत्तर प्रदेश लौटे श्रमिकों को गांव में ही काम देने की पहल योगी सरकार ने शुरू कर दी है। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता व पूर्व जिला उपाध्यक्ष डॉ. नीरज कौशिक में कहा की दूसरे प्रदेशों से आए श्रमिकों कामगारो को उनके स्किल के अनुसार काम दिया जाएगा। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे सौतेली मां बन कर प्रवासी मजदूरों का सहारा बने होते तो श्रमिक भाई बहनों को महाराष्ट्र से यूपी के लिए वापस ना आना पड़ता। उत्तर प्रदेश के यशस्वी, तेजस्वी, तपस्वी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश खुले दिल से प्रवासी भाई बहनों के गृह प्रदेश में ही आजीविका के वादे के साथ अपने सभी प्रवासी कामगारों श्रमिक बंधुओं का स्वागत कर रहा है। हर श्रमिक भाई बहनों के रोजगार के साथ ही उनकी सुरक्षा, सम्मान का भी ध्यान रखा जाएगा। एक भूखा बच्चा ही अपनी मां को ढूंढता है, यदि महाराष्ट्र सरकार ने सौतेली मां बनकर भी सहारा दिया होता तो महाराष्ट्र को गढ़ने वाले हमारे उत्तर प्रदेश के निवासियों को वापस न आना पड़ता। अपने घर वापस पहुंच रहे सभी भाइयों बहनों का प्रदेश में पूरा ख्याल रखा जाएगा। अपनी कर्मभूमि महाराष्ट्र, राजस्थान, बंगाल, पंजाब को छोड़ने के लिए मजबूर करने के बाद कांग्रेस सहित विपक्षी दल उनकी चिंता का जिस प्रकार नाटक कर श्रमिक भाइयों के जख्मों को कुरेदने का काम रहे है यह बहुत ही शर्मनाक है निंदनीय है। डॉ. नीरज कौशिक ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार 24 लाख से अधिक श्रमिक भाइयों को वापस सुरक्षित लाया जा चुका हैं। प्रदेश में कामगार व श्रमिकों को रोजगार मुहैया कराने के लिए श्रमिक कल्याण आयोग बनाने की घोषणा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कर दी है दो-तीन दिन में इसका गठन कर दिया जाएगा। श्रमिक भाइयों की सामाजिक सुरक्षा के लिए राज्य स्तर पर बीमा भी कराया जाएगा। होम क्वारंटीन किए जाने वाले श्रमिकों को खाद्यान्न किट व ₹1000 भरण-पोषण भत्ता और राशन कार्ड बनवाने के निर्देश भी दे दिए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here