वाराणसी:- सेन्ट्रल बार वाराणसी की उपाध्यक्ष साधना सिॅह से चौकी इंचार्ज चित्तईपुर ने मॉगा बीस हजार रुपये नही देने पर दी गालियॉ और अंजाम भुगतने धमकी ( रिपोर्ट:- राजेश कुमार यादव )

0
2422

सेन्ट्रल बार वाराणसी की उपाध्यक्ष साधना सिॅह से चौकी इंचार्ज चित्तईपुर ने मॉगा बीस हजार रुपये नही देने पर दी गालियॉ और अंजाम भुगतने धमकी

रिपोर्ट:- राजेश कुमार यादव

दुसरो को न्याय दिलाने वाली खूद मॉग रही हैं न्याय

वाराणसी:- सेन्ट्रल बार वाराणसी जो कि उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा बार है जबकि उसकी उपाध्यक्ष सधना सिंह से एक मामले मे चौकी इंचार्ज चित्तईपुर ने बीस हजार रुपये मागे जब साधना सिंह ने रूपये देने मे असमर्थता. जाहिर की तो चौकी इंचार्ज चित्तईपुर प्रेम नरायन ओझा ने भद्दी भद्दी गॉलिया दी और अंजाम भुगतने की धमकी दे डाली जिसकी सूचना साधना सिंह ने वरिष्ठ पुलिस अधिक्षक वाराणसी व मुख्यमंत्री को दे दिया है .

मुख्यमंत्री व वरिष्ठ पुलिस अधिकारी को दिये अपने पत्र मे साधना सिंह ने कहा है कि मै अपने पति के साथ लाकडाऊन की वजह से बिगत दो महिनो से अपनी मॉ के यहॉ श्री नगर कालोनी थाना लक्सा वाराणसी मे रह रही हू .
अत..दिनॉक 11 मई को चौकी इंचार्ज चित्तईपुर ने मुझे फोन कर बयान देने के लिये बुलाया तो मैने कहा कि मेरे पति कि तबियत ख़राब है. और लाकडाऊन भी है अत.. मै इस समय प्रधान मंत्री जी के आदेश अनुसार लाकडाऊन के नियमों का पालन कर रही हू अत.. लाकडाऊन समाप्त हो जायेगा तो मै ब्यान देने आ जाऊगी .

वैसे आप चाहे तो फोन पर ही जो पूछना है पूछ सकते हैं

लेकिन 13 मई को चौकी इंचार्ज अपने तीन और हमराहियो के साथ हमारे यहॉ आये और बीस हजार रुपये मॉगने लगे तो हमने रुपये देने मै असमर्थता जाहिर की तो वे भद्दी भद्दी गॉलिया देने लगे और मुझे वकालत करना भूला देने े व अंजाम भुगतने व पति को फर्जी मुकदमे मे फॅसाने की धमकी देते हुए चले गये .
अब देखना यह है कि कभी न्यायालय से दुसरो को न्याय दिलाने वाली इस महिला अधिवक्ता को न्याय मिल पाता है या नहीं?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here