वीडियो-गोरखपुर:-गोरखपुर दक्षिणांचल के मध्य में नशीले पदार्थ के चर्चित व्यापारी का घिनौना सच, (रिपोर्ट:-शत्रुघ्न मणि त्रिपाठी)

0
422

गोरखपुर दक्षिणांचल के मध्य में नशीले पदार्थ के चर्चित व्यापारी का घिनौना सच,

क्षेत्र के युवाओं को नशे का आदि बनाना उसका लक्ष्य

गोरखपुर जनपद के दक्षिणांचल में धड़ल्ले से रहा अवैध गांजे का कारोबार

नशेड़ियों ने साधा चुप्पी मुहमाँगी रकम लेकर की जा रही बिक्री ,

रिपोर्ट:-शत्रुघ्न मणि त्रिपाठी

गोरखपुर:- दक्षिणांचल में एक तरफ सरकार नशीले पदार्थो पर लॉकडाउन के मद्देनजर प्रतिबंधित करने पर गंभीर है ,तो वहीं दूसरी तरफ शासन स्तर से प्रतिबंधित गांजा की बिक्री धड़ल्ले से हो रही है। पुलिस व विभागीय रहमों करम पर गांजे का गलियारो में धड़ले से बिक्री की जा रही है।गोरखपुर जनपद के दक्षिणांचल क्षेत्र के मध्य भाग में खजनी के चर्चित व्यवसायी अशोक जैसवाल का धंधा जोरो से लॉकडाउन में फल फूल रहा रहा । लॉक डाउन के मद्देनजर क्षेत्र में अपना परचम लहरा रहा है । बन्दी का हवाला देकर मुहमांगी कीमत वसूल कर गांजा सप्लाई करता नजर आ रहा है । जिसका वीडियो गोपनीय स्तर पर खूब वायरल हुआ । लेकिन किसी ने उक्त मामले को उठाने की हिम्मत नही जुटाई , चूंकि क्षेत्र नशेड़ियों का अड्डा बनते जा रहा है । नई नश्ल के लड़के नशा में मस्त होते जा रहे है । आने वाले दिनों में पुलिस कोरोना खोजेगी नशेड़ी जेब काटेंगे । जनता कोरोना जैसे महामारी से जंग लड़ेगी और नशेड़ी तांडव मचाएंगे ।
आबकारी विभाग केंद्र से लेकर राज्य सरकार के राजस्व का सबसे बड़ा श्रोत माना जाता है। आबकारी से होने वाले लाभ का उपयोग सरकार विकास कार्यो में खर्च करती है। बावजूद गोरखपुर के दक्षिणांचल का चर्चित गांजा ब्यवसाई मलाई काट रहा है ।आबकारी के जिम्मेदार मौन है ।उक्त व्यापारी का धंधा किसके सह पर चल रहा सवाल बन गया है ।
रिपोर्टर/शत्रुघ्न मणि त्रिपाठी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here