संतकबीरनगर:- अमृता उर्फ रिमझिम को मिली मगहर चेयरमैन के आंचल की साया ( रिपोर्ट:- सत्य प्रकाश )

0
112

अमृता उर्फ रिमझिम को मिली मगहर चेयरमैन के आंचल की साया

रिपोर्ट:- सत्य प्रकाश

संत कबीर नगर।आदर्श नगर पंचायत मगहर की चेयरमैन संगीता वर्मा ने अपने सफाई कर्मचारी की बेटी को गोद लेकर सामाजिक आदर्श कायम कर दिया है।कर्मचारी की बेटी जो परिवारिक अन्तर्कलह में पिस रही थी।लड़की मां का निधन चुकी है।चेयरमैन व उनके परिवार की दरियादिली की चर्चा पूरे नगर में हो रही है।
नगर पंचायत मगहर के मोहल्ला काजीपुर तेली टोला निवासी पिन्टू गुप्ता पुत्र सर्वांनंद गुप्ता नगर पंचायत ठेका कर्मचारी है। जिसकी पहली पत्नी की मृत्यु हो चुकी है उस समय उसकी बेटी अमृता उर्फ रिमझिम की उम्र लगभग मात्र छः माह की थी।पत्नी की मृत्यु होने के कुछ ही साल बाद पिन्टू ने दूसरी शादी कर ली Iउसके बाद सौतेली मां के बजाय मासूम रिमझिम का पालन पोषण उसकी बुआ के वहां हुआ। बुआ की आर्थिक स्थिति ठीक न होने पर बुआ ने रिमझिम को 12 वर्ष की उम्र होने के बाद उसके पिता पिन्दू को सौंप दिया।जिसे लेकर परिवार कलह होने लगा।जिसके कारण आये दिन झगड़ा व तु तकरार होती रहती थी। पिता पिंटू के नगर पंचायत कर्मचारी होने के कारण यह मामला गुरूवार नगर पंचायत पहुंचा। जहां चेयरमैन संगीता वर्मा, सभासद सिबतैन मुस्तफा, मो. असअद, सभासद पूर्व अवधेश सिंह, लालचंद यादव, दिलीप गौङ आदि लोगों की मौजूदगी में पंचायत हुई। जिसमें दोनों पक्षों ने आप बातें सुनने के बाद पंचायत में मौजूद लोगों ने मासूम की बात सुनाई तो सभी का दिल पिधल गया। चेयरमैन संगीता वर्मा ने मासुम की बात सुन दरियादिली दिखाते हुए उसे अपने परिवार के साथ रहने का प्रस्ताव रखा।जिसके बाद माता-पिता के साथ ही मासुम के खुशी का ठिकाना नही रहा।चेयरमैन की पहल की पूरे नगर में सराहना की जा रही है।पिता पिन्टू ने सहर्ष अपनी बेटी को चेयरमैन को सुपुर्द कर दिया और कहा कि जहां खुशहाल रहे। बेटी का अच्छी शिक्षा व संस्कार मिले I चेयरमैन के वहां रह कर भी वह मेरे करीब रहेगी। पारिवार में खुश हाली रहें। इस दौरान मासुम लड़की के चाचा महेन्द्र, फुफा कैलास के अलावा आदि मौजूद रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here