संतकबीरनगर:- खाली मकान में चोरों ने पांच कमरे का ताला तोड़ पूरे घर को खंगाला ( रिपोर्ट:- सत्य प्रकाश )

0
438

खाली मकान में चोरों ने पांच कमरे का ताला तोड़ पूरे घर को खंगाला

रिपोर्ट:- सत्य प्रकाश

संत कबीर नगर।खलीलाबाद कोतवाली क्षेत्र के मगहर चौकी अन्तर्गत काजीपुर मोहल्ले में गुरुवार की रात में चोरों खाली पड़े मकान को निशाना बनाया।जिसमे पांच कमरे के ताले को नकदी और जेवर को चोरों ने चोरी कर लिया और फरार हो गए।जिसकी सूचना पीड़ित ने स्थानीय पुलिस को दे दी है।
नगर पंचायत मगहर के काजीपुर मोहल्ले में ओम प्रकाश यादव पुत्र स्व राम मूरत यादव का शराब गद्दी वाले रोड पर मकान है।जिसे उन्होनें गोरखपुर जनपद के सहजनवां थाना क्षेत्र के ग्राम इटार निवासी राजेश यादव पुत्र राम बृक्ष यादव को किराये पर दे रखे हैं।राजेश यादव गोरखपुर के गोला तहसील में संग्रह अमीन के पद पर कार्यरत हैं।वह अपने पूरे परिवार के साथ रहते हैं।राजेश यादव ने बताया कि मगहर में मार्च के महीने में कोरोना के कारण हाटस्पाट हो जाने के कारण परिवार सहित गांव पर चले गए।इसके बावजूद भी स्वयं और उनका पुत्र आता जाता रहता था।गुरुवार को परिवार का कोई सदस्य गांव से नहीं आ सका।जब वह शुक्रवार की सुबह गांव से मगहर अपने क्वाटर पर आये।तब उन्होने सामने के दरवाजे का ताला टूटा हुआ देखा उसके बाद आस पास के लोगों को जानकारी देने के साथ घर का दरवाजा खोल कर अन्दर गए।मकान के अन्दर जाने के बाद घर के पांच कमरे के ताले टूटे हुए और बक्से की कुंडी छ्टका कर उसमे रखे दस हजार ₹ नकद व जेवर आदि सामानो को उठा ले गए।इसके अलावा अन्य वस्तुओं को इधर-उधर अस्त व्यस्त होने के साथ ही बिजली की सप्लाई को चोरों द्वारा भंग किया जाना देखा और स्तब्ध हो गए।उसके बाद स्थानीय पुलिस को घटना की सूचना दे दी।सूचना पर चौकी के हेड कांस्टेबल राम आसरे और आदित्य यादव ने पहुंच कर घटना स्थल का निरीक्षण किया।मजे की बात यह है कि रोज रात को नगर में यूपी डायल 112 का वाहन काजीपुर चौराहे पर खड़ा रहता है।इसके अलावा पुलिस चौकी की जीप भी नगर में पेट्रोलिंग करती है।इसके बावजूद नगर में चोरी की घटना कम होने के बजाय बढ़ रही है।जिसे लेकर लोगों में दहसत और भय बना हुआ है।
बताते चले कि मार्च के महीने में शराब की दुकान का ताला तोड़ कर चोरी हुई।उसके बाद काजीपुर चौराहे पर फल की दुकान का कैस बाक्स के चोरी होने की घटना हुई थी।इन दोनो चोरी की घटना में शामिल होने वाले चर्चित कुछ लड़कों को पुलिस ने उठाया और तीन चार दिन तक अपने अभिरक्षा में रखने के बाद क्यों और किसके दबाव में छोड़ दिया।यह चर्चा का विषय बना रहा।उसके बाद फिर गुरुवार की रात में चोरों ने चोरी की घटना को अंजाम दे कर पुलिस को चुनौती दे दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here