संतकबीरनगर :गरीबों और पिड़ितो का आंसू पोछना ही हमारा धर्म :डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी ( रिपोर्ट : विजय गुप्ता )

0
75

गरीबों और पिड़ितो का आंसू पोछना ही हमारा धर्म :डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी
*संतकबीरनगर।* सूर्या इंटरनेशनल सीनियर सेकेंडरी स्कूल के प्रबंध निदेशक व समाजसेवी डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी लगातार कोरोना काल से लेकर अब तक हजारों गरीबों की मदद करते देखे जा रहे हैं। डा. उदय प्रताप चतुर्वेदी विगत कई वर्षो से सभी के दुख-सुख में पहुंचकर ढ़ाढस बढ़ाने का काम करते आ रहें है, यहीं कारण है कि पूरे जिले में उनकी लोकप्रियता दिनों-दिन बढ़ती जा रहीं है। डा. चतुर्वेदी का नाम समाजसेवी के रूप में सुर्खियों में अक्सर रहता है, इसके पीछे सबसे प्रमुख कारण हर गरीबों का आंसू पोछना उनकी आदत में सुमार हो गया है। जब किसी के दुख-सुख की सूचना डा. उदय प्रताप चतुर्वेदी को मिलती है, तो वह अपने सहयोगियों के साथ मौके पर पहुंचकर ढ़ाढ़स बढ़ाने का कार्य करतें है, जिसकी पूरे जिले में चौरतफा सराहना हो रहीं है। इसी प्रकार समाजसेवी डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी ने रविवार को जिले के दर्जनों गांव का दौरा किया इस दौरान जहां समाजसेवी डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी ने दो मृतक के परिजनों से मुलाकात करते हुए पीड़ित परिवार के प्रति सांत्वना व्यक्त करते हुए आर्थिक मदद की वही बीमार व्यक्ति के घर पहुंच कर कुशल क्षेम जाना। इसी क्रम में सबसे पहले समाजसेवी डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी रनियापुर गांव स्थित शंकर यादव के घर पहुंचे शंकर यादव के पिता जी की कुछ दिन पूर्व बीमारी के चलते मौत हो गई थी। डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी ने पीड़ित परिवार से मुलाकात करते हुए पीड़ित परिवार के प्रति शोक संवेदना व्यक्त करते हुए हर संभव मदद देने का आश्वासन किया। इसी प्रकार बसुलहिया कटका गाव पहुचे जहा के रहने वाले राम उग्रह उर्फ मेघु सिंह को फालिज मार दिया था जिससे वह काफी दिन से अस्वस्थ थे। डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी ने पीड़ित से मुलाकात करते हुए उनके स्वास्थ्य की कामना की तथा आर्थिक मदद करते हुए आगे भी उनके साथ खड़ा रहने का भरोसा दिलाया। इसके बाद समाजसेवी डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी खलीलाबाद ब्लॉक क्षेत्र के खजुहा गांव पहुंचे जहां 17 सितंबर को विंध्याचल यादव पुत्र स्वर्गीय चंद्रभान यादव की मार्ग दुर्घटना में मौत हो गई थी। युवक की मौत से पूरा परिवार पर पहाड़ टूट पड़ा था पीड़ित परिजनों से मुलाकात कर समाजसेवी डॉ उदय प्रताप चतुर्वेदी ने 10 हजार रुपये की आर्थिक मदद देते हुए पीड़ित परिवार के प्रति शोक संवेदना व्यक्त की। इस दौरान राजू यादव,राम बहादुर सिंह,त्रिपुरारी सिंह,रविन्द्र यादव,सौरव सिंह, बलराम यादव,निहाल पाण्डेय,अंकित पाल,आलोक उपाध्याय, आनंद ओझा,संदीप सिंह सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here