संतकबीरनगर:- पालघर मॉब लिंचिंग के शिकार संत सुशील गिरि के परिजनों को समाजसेवी अंकुर राज तिवारी ने, दिया आर्थिक सहायता ( रिपोर्ट:- केदारनाथ दुबे )

0
300

पालघर मॉब लिंचिंग के शिकार संत सुशील गिरि के परिजनों को समाजसेवी अंकुर राज तिवारी ने, दिया आर्थिक सहायता

रिपोर्ट केदार नाथ दूबे

संतकबीरनगर संवाददाता:- समाजसेवी अंकुर राज तिवारी हमेशा से ही जनपद में अपने सामाजिक कार्यो हेतु जाने जाते है , उनकी लोकप्रियता का अनुमान आप इसी बात से लगा सकते है कि जनपद में युवाओं में सर्वाधिक लोकप्रिय व सबके चहेते बन बैठे है , और अब लोग उनसे उम्मीद कर रहे है व मांग रहे है कि वो राजनीति में महत्वपूर्ण भूमिका भी सुरु करें
उनकी दयालुता का ताज़ा उदाहरण है कि महाराष्ट्र के पालघर में मॉब लिंचिंग के शिकार हुए संत सुशील गिरि के परिजन को उन्होंने आर्थिक सहायता के रूप में इक्यावन हज़ार रुपये मुहैया कराई है।
आपको बताते चले संत सुशील गिरी जी जो महज़ 35 साल की उम्र में ही मॉब लीचिंग का शिकार हो गए और उनकी दुःखद मृत्यु हो गई।
सन्त सुशील गिरी जी उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर जिले के रहने वाले थे। महज 12 साल की उम्र में उन्होंने घर छोड़ दिया था। संन्यास से पहले लोग उन्हें प्यार से रिंकू दुबे कहते थे। हालांकि, परिवार ने शिवनारायण दुबे नाम रखा था। छह भाई-बहनों में सुशील गिरि सबसे छोटे थे। उनके दो भाई मुंबई में रहते हैं, लेकिन लॉकडाउन के चलते वे अंतिम संस्कार में भी शामिल नहीं हो सके। सुशील की मौत से उनके परिवार और गांव में हर कोई गमगीन है। सभी महाराष्ट्र सरकार से दोषियों पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here