संतकबीरनगर:- योग की क्रिया नियमित दिनचर्या में जोड़ने का कार्य करे ,, डा० उदय प्रताप चतुर्वेदी ( रिपोर्ट:- विजय गुप्ता )

0
437

योग की क्रिया नियमित दिनचर्या में जोड़ने का कार्य करे ,, डा० उदय प्रताप चतुर्वेदी

रिपोर्ट:- बिजय गुप्ता

संतकबीरनगर:- छठवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर रविवार को योग आसन प्राणायाम सूर्या इंटर नेशनल सीनियर सेकेण्डी स्कूल में सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए स्कूल प्रबन्ध तंत्र के साथ किया गया।योग दिवस में मौजूद लोंगो को योग, आसन, प्राणायाम के प्रति लोगों को जागरूक करते हुए सूर्या इंटर नेशनल सीनियर सेकेण्ड्री स्कूूल के प्रबन्ध निदेशक डा. उदय प्रताप चतुर्वेदी ने कहा कि योग स्वस्थ और सुखी जीवन मनुष्य की प्रमुख आवश्यकता है।
यह तभी सम्भव है जब हम आहार, विहार व कर्म को शुद्ध व संस्कारी करके उस पर चलने की कोशिश करेंगे। मनीषियों विद्वानों ऋषियों द्वारा बताए गए योग व्यायाम की क्रिया नियमित दिनचर्या में जोड़ने का कार्य करेंगे। श्री चतुर्वेदी ने कहा कि शरीर के सभी अंग सक्रिय और जीवंत रहे, इसके लिए जो क्रियाए की जाती है। श्री चतुर्वेदी ने कहा कि योग करने से जहां शरीर स्वस्त होता है, वहीं मानसिक विकारता भी समाप्त होता है। एकेडमी की प्रबन्ध निदेशिका श्रीमती सविता चतुर्वेदी ने कहा कि हमारा देश विश्व में योग के माध्यम से छा गया है यह हमारे योग गुरूओं की अनोखी विधा रहीं है। श्रीमती चतुर्वेदी ने कहा कि आत्मा मन और शरीर की शांति का नाम ही योग है। हमारा देश पहले भी योग गुरू रहा है और वर्तमान में भी इस योग कार्यक्रम के माध्यम से विश्व के पटल पर छा गया है। योग एक ऐसी विधा है कि जिसको करके हम निरोग रहते हुए अपने दायित्वों का निर्वहन करते है। इस अवसर पर डा. चिंता मणि उपाध्याय, अखण्ड प्रताप चतुर्वेदी, बलिराम यादव, छात्र संघ अध्यक्ष सौरभ सिंह समेत तमाम लोग मौजूद रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here