संतकबीरनगर :स्‍वास्‍थ्‍य मेले में 17 यूनिट रक्‍तदान के साथ 1611 मरीजों का इलाज( रिपोटर : विजय गुप्ता ) 

0
238

स्‍वास्‍थ्‍य मेले में 17 यूनिट रक्‍तदान के साथ 1611 मरीजों का इलाज

–    2 शहरी स्वास्थ्य केंद्रों समेत कुल 22 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर लगा आरोग्‍य मेला

–  चुरेब में आयोजित किया गया रक्‍तदान शिविर, एसीएमओ ने भी किया रक्‍तदान

संतकबीरनगर, 7 मार्च  2021।

प्रदेश सरकार द्वारा आयोजित किए जा रहे आरोग्य मेले मे एसीएमओ डॉ मोहन झा व पूर्व सर्विलांस अधिकारी डॉ ए के सिन्‍हा समेत 17 स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों ने रक्‍तदान किया। तीन शहरी समेत 22 स्‍वास्‍थ्‍य इकाइयों पर आयोजित इन मेलों में 1611 मरीजों का इलाज भी किया गया। रक्‍तदान शिविर का आयोजन प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्र चुरेब में किया गया था।

 स्‍वास्‍थ्‍य मेले का उदघाटन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चुरेब में किया गया। इस दौरान मेले के उदघाटन के बाद रक्तदान शिविर में मुख्य अतिथि सीडीओ माननीय अतुल मिश्रा जी ने कहा कि स्‍वास्‍थ्‍य मेले से अधिक से अधिक लोगों को लाभ मिले इसीलिए शासन की मंशा के अनुरुप स्‍वास्‍थ्‍य इकाइयों पर मेले का आयोजन किया जा रहा है। मुख्‍यमन्‍त्री जी की मंशा थी कि किसी एक स्‍थान पर रक्‍तदान शिविर भी लगाया जाय। इसीलिए चुरेब में यह रक्‍तदान शिविर आयोजित किया गया है। इस अवसर पर एसीएमओ डॉ मोहन झा ने रक्तदान करके कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस दौरान सामुदायिक स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्र खलीलाबाद के अधीक्षक डॉ बी पी पांडे, पूर्व जिला सर्विलांस अधिकारी रहे डॉ ए के सिन्‍हा,  स्टाफ नर्स वसुंधरा पांडे,  बीपीएम अभय त्रिपाठी, गुड्डू शुक्ला, कुन्नू चौबे आदि कई लोगों ने रक्तदान किया । इस अवसर पर एसीएमओ डॉ मोहन झा ने सरकार द्वारा चलाए जा रहे तमाम तरह के कार्यक्रमों की जानकारी दी और स्‍वास्‍थ्‍य मेले की सुविधाओं से अवगत कराया। इस दौरान दिलीप उपाध्याय पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष, चुरेब प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की प्रभारी डॉ गरिमा श्रीवास्तव, एएनएम शीला खरवार, स्टाफ नर्स वसुंधरा पांडे,  प्रियंका कनौजिया,  टीएन  जयसवाल, आदि ने कार्यक्रम में हिस्सा लिया । कार्यक्रम में आए हुए सभी अतिथियों के प्रति अपना आभार व्यक्त करते हुए प्रभारी डॉ गरिमा श्रीवास्तव ने कहा किसी भी मरीज को स्वास्थ्य सुविधाओं में कोई कमी नहीं आने देंगे।

सबसे अधिक त्‍वचा व सांस के रोगी

आज के मेले में त्‍वचा व सांस के रोगियों की संख्‍या सबसे अधिक रही। इसमें सांस के 173 व त्‍वचा के 311 रोगी सामने आए । वहीं डायबिटीज के 67 , उदर रोगी 29 , उच्‍च रक्‍त चाप के 85 , एनीमिया के 9 , गर्भवती 39 , अन्‍य रोगी 898 , उच्‍च केन्‍द्रों को 16 मरीज संदर्भित किए गए । जिनमें 9 को मेडिकल कालेज गोरखपुर पर रेफर किया गया। इन रोगियों में 557 पुरुष, 765 महिला व 289 बच्‍चें शामिल थे।   

आयुष्मान का 86  गोल्डेन कार्ड भी बना

मुख्यमंत्री जन आरोग्य मेले में आयुष्मान भारत योजना के स्टॉल लगा कर 86 लोगों के गोल्डेन कार्ड भी बनाए गए। सीएमओ ने बताया कि प्रत्येक रविवारीय स्वास्थ्य मेले में प्रयास होगा कि ज्यादा से ज्यादा केंद्रों पर कैंप लगा कर लाभार्थियों को गोल्डेन कार्ड की सुविधा प्रदान की जाए।

 
330 की हुई कोरोना जांच

मेले के दौरान अधिक से अधिक लोगों की एण्‍टीजन विधि से कोरोना जांच के निर्देश पर जिले में 330 लोगों की कोरोना जांच भी की गई। 1398 लोगों ने कोरोना हेल्‍प डेस्‍क पर जाकर कोरोना के बारे में जानकारी भी ली । 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here